Sunday , 12 February 2017
Latest Happenings
Home » Gyan Ganga » Bhajan/Aarti / Mantra/ Chalisa Lyrics » बनके बिहारी की बंकी मारोर

बनके बिहारी की बंकी मारोर

banke-bhihari-ki

banke-bhihari-ki

banke bhihari ki  bhajan

बनके बिहारी की बंकी मारोर, चिट लिन्ा है चोर
बांका मुकुट, बनके कुंडल विशाल,
गलर हीरो की, मॉलियान कीमाल,
बांको हे पटका को लटका है च्चीर,
चिट लिमहा है चोर———

मुंदरी चारायून्म जवाहरात की,
वाकई लकुतिया सजी हाथ की,
वाकए पीतांबेर की झुलके कीनोरे,
चिट-लिन्ा है चोर—–

कमलो से कोमल है वाकए चरण,
हे, श्याम-सुंदर, मनोहर वरण,
भक्तो की प्रीत, जैसे चंदा चकोर,
चिट लिन्ा है चोर——–

वाकई है झाँकी और वाकई अदा,
भक्तो के कारज्ज संवारे सदा,
मो जैसे दीनो की सुनते निहोर,
चिट लिन्ा है चोर—–

[To English wish4me]

Banke Bihari Ki Banki Maror, Chit Linha Hai Chor
Banka Mukut, Banke Kundal Vishal,
Galhar Hero Ki, Molian Kimal,
Banko He Patka Ko Latka Hai Chhir,
Chit Limha Hai Chor———

Mundari Charayunm Jawaharat Ki,
Vaki Lakutiya Saji Haath Ki,
Vake Pitamber Ki Jhulke Kinore,
Chit-linha Hai Chor—–

Kamalo Se Komal Hai Vake Charan,
Hey, Shyam-sundar, Manohar Varan,
Bhakto Ki Preet, Jaise Chanda Chakor,
Chit Linha Hai Chor——–

Vaki Hai Jhanki Aur Vaki Ada,
Bhakto Ke Karajj Sanvare Sada,
Mo Jaise Deeno Ki Sunte Nihor,
Chit Linha Hai Chor—–

 

Comments

comments