Sunday , 17 September 2017
Latest Happenings
Home » Gyan Ganga » Guru Parvachan

Guru Parvachan

यहां मौजूद है मन की हलचल को दूर करने का अचूक उपाय

Here is the perfect remedy for the movement of mind

महात्मा बुद्ध अपने शिष्यों के संग जंगल से गुजर रहे थे। दोपहर को एक वृक्ष के नीचे विश्राम करने रुके। उन्होंने शिष्य से कहा, ‘प्यास लग रही है, कहीं पानी मिले, तो लेकर आओ।’ शिष्य एक पहाड़ी झरने से लगी झील से पानी लेने गया। झील से कुछ पशु दौड़कर निकले थे, जिससे उसका पानी गंदा हो गया था। उसमें ... Read More »

एक लाख आदमी मर जाएं तुम्हारे हाथ से गिराए बम से

hiroshima & Nagashaki

जिस आदमी ने हिरोशिमा पर ऐटम बम गिराया और एक ऐटम बम के द्वारा एक लाख आदमी दस मिनिट के भीतर राख हो गए, वह वापिस लौट कर सो गया। जब सुबह उससे पत्रकारों ने पूछा कि तुम रात सो सके? उसने कहा, क्यों? खूब गहरी नींद सोया! आज्ञा पूरी कर दी, बात खत्म हो गई। इससे मेरा लेना—देना ही ... Read More »

परम पूज्य श्री श्री स्वामीजी महाराजश्री

श्री श्री स्वामीजी महाराजश्री

परम पूज्य श्री श्री स्वामीजी महाराजश्री कह रहे हैं कि परमेश्वर हर युग में आकर मानव जाति को मार्ग दिखाते हैं । पावन , सच्चे , धर्म की स्थापना करते हैं और पाप व अधर्म का नाश करते हैं । गीता जी , ईश्वर की भक्ति को मुख्यतया देकर ज्ञान व प्रेम का संतुलन बनाती है । ज्ञान प्रेम में ... Read More »

शंकर की आधी प्रतिमा पुरुष की है और आधी स्त्री की – अर्धनारीश्वर

शंकर की आधी प्रतिमा पुरुष की है और आधी स्त्री की – अर्धनारीश्वर – यह तो अनूठी घटना है। लेकिन जो जीवन के परम रहस्य में जाना चाहते है, उन्हें शिव के इस रूप को समझना पड़ेगा। अर्धनारीश्वर का अर्थ यह हुआ कि आपका ही आधा व्यक्तित्व आपकी पत्नी और आपका ही आधा व्यक्तित्व आपका पति हो जाता है। आपकी ... Read More »

गुरु के प्रति सच्ची दक्षिणा यही है

प्राचीनकाल के एक गुरु अपने आश्रम को लेकर बहुत चिंतित थे। गुरु वृद्ध हो चले थे और अब शेष जीवन हिमालय में ही बिताना चाहते थे, लेकिन उन्हें यह चिंता सताए जा रही थी कि मेरी जगह कौन योग्य उत्तराधिकारी हो, जो आश्रम को ठीक तरह से संचालित कर सके। उस आश्रम में दो योग्य शिष्य थे और दोनों ही ... Read More »

Bamakhepa audio-video

life   Achivments  Work      Audio/Video   Publication Audio/Video Sadhok Bamakhyapa, which has had an uninterrupted run on colours Bangla since Sep, 2016 not only shows the presence of this great figure in our lives, but also celebrates the feat of a serial which has become a part of our daily lives. We have retrieved one of the most important figures in our ... Read More »

Bamakhepa work

life   Achivments  Work      Audio/Video   Publication Work Subsequently, he mastered Tantra sadhana from his uttar sadhak (another senior disciple of Kailashpati) Kaulacharya Mokshadananda in Bamachar. Among his notable friends in Tarapith was a servitor of the Tara temple named Nagen Panda, whom he called Nagen—Kaka (Uncle—Nagen, even though Bama was much senior to him). He had an assistant named Gadai (usually ... Read More »

Bamakhepa achievments

life   Achivments  Work      Audio/Video   Publication Achievment Amongst his notable disciples are Tarakehpa and Nigamananda Saraswati (premonastic name Nalanikanta Bhattacharyya). It is usually told that ghosts would even be afraid to create a nuisance, when they would see the guru—sishya duo Bamakhepa and Tarakhepa. Realizing that Nalanikanta is on the verge of full-fledged monastic life, Bamakhepa taught him tantra sadhana for ... Read More »

Bamakhepa life

life   Achivments  Work      Audio/Video   Publication Life As a child, he worshipped Goddess Tara at his home. He had to take a job of a priest at the temple of Mauliksha Devi in Maluti due to growing poverty at home. But he was disqualified from the job because he could not chant Sanskrit mantras. He was converted to a cook at ... Read More »