Tuesday , 19 September 2017
Latest Happenings
Home » blog » जिंदगी में समस्याओं को उलझाएं नहीं बल्कि इस तरह सुलझाएं

जिंदगी में समस्याओं को उलझाएं नहीं बल्कि इस तरह सुलझाएं

do-not-confuse-problems-in-life-but-solve-it-like-this

do-not-confuse-problems-in-life-but-solve-it-like-this

Do not confuse problems in life but solve it like this

एक व्यक्ति कहीं जा रहा था उसे हार्ट अटैक आ गया लेकिन वो बच गया। इस घटना के बाद उसे हर बात से डर लगने लगा।

वह मनोवैज्ञानिक के पास गया और बोला, अज्ञात भयों के कारण मेरे जीवन में आनंद नहीं रह गया है। हर समय डर में जी रहा हूं।

यह सुनकर मनोवैज्ञानिक बोले, ‘मैं अपने जीवन का एक प्रसंग सुनाता हूं। मुझे पढ़ने का बहुत शौक है और मेरे पास में ऐसी बहुत सी किताबें हैं, जिनसे मुझे बहुत प्यार है। लेकिन एक दिन घर में एक चूहा आ गया, जो मेरी किताबें चोरी से कुतर देता। मैंने बहुत उपाय किए, लेकिन चूहे को नहीं भगा पाया। मेरी रातों की नींद गायब हो गई।’

थोड़ा रुककर वह बोले, ‘वह छोटा सा चूहा मेरे मन में दानव का आकार ले लेता, इसके पहले ही मैंने जरूरी किताबें मजबूत अलमारी में बंद कर दीं और फालतू चूहे के लिए छोड़ दीं। इस तरह मैं अपने डर से मुक्त हो गया। वरना मेरा डर अभी तक राक्षस बन गया होता।

Hindi to English

One person was going somewhere, he got a heart attack but he was saved. After this incident, he started scared of everything.

He went to the psychologist and said, there is no joy in my life because of unknown fears. I am living in fear all the time.

Listening to this, the psychologist said, ‘I tell a story of my life. I am very fond of reading and I have many such books, which I love so much. But one day a rat came in the house, who stole my books from the thief. I did a lot of measures, but the mouse did not get trapped. The sleep of my nights disappeared. ‘

He stopped a little and said, ‘The little rat took the shape of a demon in my mind, before that I stopped the necessary books in a closet and left for a whopping mice. In this way I became free from my fear. Otherwise my fear would have been a monster so far.

Comments

comments