Friday , 10 February 2017
Latest Happenings
Home » Gyan Ganga » Bhajan/Aarti / Mantra/ Chalisa Lyrics » गुरु वचनो को रखना सँभाल के

गुरु वचनो को रखना सँभाल के

guru-vachano-ko-rakhana-sambhaal-ke

guru-vachano-ko-rakhana-sambhaal-ke

guru vachano ko rakhana sambhaal ke

guru vachano ko rakhana sambhaal ke

गुरु वचनो को रखना सँभाल के इक इक वचन में गहरा राज़ है,
जिसने जानी है महिमा गुरु की उसका डूबा कभी न जहाज़ है ।

दीप जले और अंधेरा मिटे न ऐसा कभी नहीं हो सकता,
ज्ञान सुने और विवेक न जागे ऐसा कभी नहीं हो सकता ।
जिसकी रोशनी से रोशन जहान है वो फरिश्ता बड़ा ही महान है,
जिसने जानी है महिमा गुरु की उसका डूबा कभी न जहाज़ है ॥

बीज पड़े और अंकुर न फूटे ऐसा कभी नहीं हो सकता,
कर्म करे और फल न भोगे ऐसा कभी नहीं हो सकता ।
कर्म करने को तूँ होशिआर है फल भोगने में बड़ा ही लाचार है,
जिसने जानी है महिमा गुरु की उसका डूबा कभी न जहाज़ है ॥

ठोकर लगे सतगुर न संभाले ऐसा कभी नहीं हो सकता,
जब हम पुकारे और वो न आए ऐसा कभी नहीं हो सकता ।
उसके हाथों में सौंप दे हाथ तूँ वो तो अंग संग तेरे साथ है,
जिसने जानी है महिमा गुरु की उसका डूबा कभी न जहाज़ है ॥

गुरु परिपूर्ण समर्पित तूँ हो जा धोखा कभी नहीं खा सकता,
लक्ष्मण रेखा सतसंग की हो तो रावण कभी नहीं आ सकता ।
अब तो हर पल होता आभास है गुरु सदा ही हमारे साथ है,
जिसने जानी है महिमा गुरु की उसका डूबा कभी न जहाज़ है ॥

wish4me to English

guru vachano ko rakhana sanbhaal ke ik ik vachan mein gahara raaz hai,
jisane jaanee hai mahima guru kee usaka dooba kabhee na jahaaz hai .

deep jale aur andhera mite na aisa kabhee nahin ho sakata,
gyaan sune aur vivek na jaage aisa kabhee nahin ho sakata .
jisakee roshanee se roshan jahaan hai vo pharishta bada hee mahaan hai,
jisane jaanee hai mahima guru kee usaka dooba kabhee na jahaaz hai .

beej pade aur ankur na phoote aisa kabhee nahin ho sakata,
karm kare aur phal na bhoge aisa kabhee nahin ho sakata .
karm karane ko toon hoshiaar hai phal bhogane mein bada hee laachaar hai,
jisane jaanee hai mahima guru kee usaka dooba kabhee na jahaaz hai .

thokar lage satagur na sambhaale aisa kabhee nahin ho sakata,
jab ham pukaare aur vo na aae aisa kabhee nahin ho sakata .
usake haathon mein saump de haath toon vo to ang sang tere saath hai,
jisane jaanee hai mahima guru kee usaka dooba kabhee na jahaaz hai .

guru paripoorn samarpit toon ho ja dhokha kabhee nahin kha sakata,
lakshman rekha satasang kee ho to raavan kabhee nahin aa sakata .
ab to har pal hota aabhaas hai guru sada hee hamaare saath hai,
jisane jaanee hai mahima guru kee usaka dooba kabhee na jahaaz hai .

Comments

comments