Tuesday , 7 February 2017
Latest Happenings
Home » Gyan Ganga » Bhajan/Aarti / Mantra/ Chalisa Lyrics » मधुबन के मंदिरो में भगवान बस रहा है

मधुबन के मंदिरो में भगवान बस रहा है

madhuban-ke-mandiro-main-bhagwan

madhuban-ke-mandiro-main-bhagwan

Madhuban Ke Mandiro Main Bhagwan

मधुबन के मंदिरो में भगवान बस रहा है ।
पारस प्रभु के दर पे सोना बरस रहा है ॥

आध्यात्म का यह सोना पारस ने खुद दिया है,
ऋषिओं ने इस धरा से निर्वाण पद लिया है ।
सदिओं से इस शिखर का स्वर्णिम सुयश रहा है,
पारस प्रभु के दर पे सोना बरस रहा है ॥
मधुबन के मंदिरों में…

तीर्थंकरों के तप से पर्वत हुआ यह पावन,
केवल्य रश्मिओं का बरसा यहां सावन ।
उस ज्ञानामृत के जल से पर्वत सरस रहा है,
पारस प्रभु के दर पे सोना बरस रहा है ॥
मधुबन के मंदिरों में…

पर्वत के गर्भ में है रत्नो का है वो खजाना,
जब तक है चंन्द सूरज होगा नहीं पुराना ।
जन्मा है जैन कुल में तू क्यों तरस रहा है,
पारस प्रभु के दर पे सोना बरस रहा है ॥
मधुबन के मंदिरों में…

नागो को भी यह पारस राजेन्द्र सम बनाए,
उपसरग के समय जो धेन्द्र बन के आए ।
पारस के सर पे देवी पद्मावती यहाँ है,
पारस प्रभु के दर पे सोना बरस रहा है ॥
मधुबन के मंदिरों में…


madhuban ke mandiro mein bhagavaan bas raha hai.
paaras prabhu ke dar pe sona baras raha hai.

aadhyaatm ka yah sona paaras ne khud diya hai,
rshion ne is dhara se nirvaan pad liya hai.
sadion se is shikhar ka svarnim suyash raha hai,
paaras prabhu ke dar pe sona baras raha hai.
madhuban ke mandiron mein …

teerthankaron ke tap se parvat hua yah paavan,
kevaly rashmion ka barasa yahaan saavan.
us gyaanaamrt ke jal se parvat saras raha hai,
paaras prabhu ke dar pe sona baras raha hai.
madhuban ke mandiron mein …

parvat ke garbh mein hai ratno ka hai vo khajaana,
jab tak hai channd sooraj hoga nahin puraana.
janma hai jain kul mein too kyon taras raha hai,
paaras prabhu ke dar pe sona baras raha hai.
madhuban ke mandiron mein …

naago ko bhee yah paaras raajendr sam banae,

Comments

comments