Tuesday , 7 February 2017
Latest Happenings
Home » Gyan Ganga » Religious Places » मलयात्तूर चर्च

मलयात्तूर चर्च

malayaattoor-charch

malayaattoor-charch

malayaattoor charch

malayaattoor charch

कोच्चि से 52 किलोमीटर दूर स्थित मलयात्तूर चर्च 609 मीटर ऊंची मलयात्तूर हिल के ऊपर स्थित है। मलयात्तूर चर्च (Malayattoor Chruch) सेंट थॉमस को समर्पित है। सेंट थॉमस जो कि यीशु मसीह के बारह प्रेरितों में से एक थे को यहां मलयात्तूर में दो चर्च समर्पित हैं।

मलयात्तूर चर्च का इतिहास (History of the Church)

मलयात्तूर चर्च कुरीसुमुडी पहाड़ी की चोटी पर स्थित है। इस चर्च की इमारत रोमन स्थापत्य कला से पूर्ण है लेकिन यहां का अल्तार यूनानी शैली में है। इस चर्च में सेंट थॉमस की एक आदमकद प्रतिमा और एक चट्टान पर उनके पैरों की छाप मौजूद है। यहां मौजूदा अल्तार के पीछे प्रभु यीशु मसीह के चित्र नक्काशीदार डिजाइन से खुदे हुए हैं।

मलयात्तूर चर्च के बारे में (About the Malyattor Church in Hindi)

ऐसा माना जाता है कि केरल में ईसाई धर्म सेंट थॉमस द्वारा लाया गया था। तीनों अंगों में विभाजित इस चर्च में स्वीकारोक्ति और आराधना के लिए अलग से सुविधाएं भी हैं। यहां एक प्राचीन बपतिस्मा तालाब और एक पारंपरिक व्यासपीठ भी है जिसे ऐतिहासिक प्रासंगिकता प्राप्त है। यह भारत में पहला ऐसा तीर्थ स्थल है जिसे वैटिकन सिटी की आधिकारिक सीट से अंतरराष्ट्रीय दर्जा प्रदान किया गया है।

wish4me to English

kochchi se 52 kilomeetar door sthit malayaattoor charch 609 meetar oonchee malayaattoor hil ke oopar sthit hai. malayaattoor charch (malayattoor chhruchh) sent thomas ko samarpit hai. sent thomas jo ki yeeshu maseeh ke baarah preriton mein se ek the ko yahaan malayaattoor mein do charch samarpit hain.

malayaattoor charch ka itihaas (history of thai chhurchh)

malayaattoor charch kureesumudee pahaadee kee chotee par sthit hai. is charch kee imaarat roman sthaapaty kala se poorn hai lekin yahaan ka altaar yoonaanee shailee mein hai. is charch mein sent thomas kee ek aadamakad pratima aur ek chattaan par unake pairon kee chhaap maujood hai. yahaan maujooda altaar ke peechhe prabhu yeeshu maseeh ke chitr nakkaasheedaar dijain se khude hue hain.

malayaattoor charch ke baare mein (about thai malyattor chhurchh in hindi)

aisa maana jaata hai ki keral mein eesaee dharm sent thomas dvaara laaya gaya tha. teenon angon mein vibhaajit is charch mein sveekaarokti aur aaraadhana ke lie alag se suvidhaen bhee hain. yahaan ek praacheen bapatisma taalaab aur ek paaramparik vyaasapeeth bhee hai jise aitihaasik praasangikata praapt hai. yah bhaarat mein pahala aisa teerth sthal hai jise vaitikan sitee kee aadhikaarik seet se antararaashtreey darja pradaan kiya gaya hai.

Comments

comments