Wednesday , 8 February 2017
Latest Happenings
Home » Gyan Ganga » Bhajan/Aarti / Mantra/ Chalisa Lyrics » मुझमे राम तुझमे राम सबमे राम समाया

मुझमे राम तुझमे राम सबमे राम समाया

mujh-main-raam-tujh-main-raam-sab-main-raam-samaya

mujh-main-raam-tujh-main-raam-sab-main-raam-samaya

Mujh main raam tujh main raam sab main raam samaya story

मुझमे राम तुझमे राम सबमे राम समाया,
सबसे करलो प्रेम यहां कोई नहीं पराया,
यहां कोई नहीं पराया।

एक बाग़ के फूल हैं सारे,एक हार के मोती,
जितने हैं संसार में प्राणी,सबमे एक ही ज्योति
भूल गए उस परम-पिता को जिसने हमे बनाया,
सबसे करलो प्रेम यहां कोई नहीं पराया,
यहां कोई नहीं पराया।

एक पिता के बच्चे है हम,एक हमारी माता,
दाना पानी देने वाला सबका एक है दाता,
मेरा है यह मैंने कमाया,मूरख क्यों भरमाया,
सबसे करलो प्रेम यहाँ कोई नही पराया,
यहां कोई नही पराया।

कण कण में प्रतिबिम्ब है उसका,ब्रह्म तुम्हारी माया
क्यों कर किसी से बैर करोगे,कौन है यहाँ पराया,
सेवा धर्मं ही श्रेष्ठ धर्म है,गुरुओं ने बतलाया,
सबसे करलो प्रेम यहां कोई नही पराया,
यहाँ कोई नही पराया।


Mujhame raam tujhame raam sabame raam samaaya,
sabase karalo prem yahaan koee nahin paraaya,
yahaan koee nahin paraaya.

ek baag ke phool hain saare, ek haar ke motee,
jitane hain sansaar mein praanee, sabame ek hee jyoti
bhool gae us param-pita ko jisane hame banaaya,
sabase karalo prem yahaan koee nahin paraaya,
yahaan koee nahin paraaya.

ek pita ke bachche hai ham, ek hamaaree maata,
daana paanee dene vaala sabaka ek hai daata,
mera hai yah mainne kamaaya, moorakh kyon bharamaaya,
sabase karalo prem yahaan koee nahee paraaya,
yahaan koee nahee paraaya.

kan kan mein pratibimb hai usaka, brahm tumhaaree maaya
kyon kar kisee se bair karoge, kaun hai yahaan paraaya,
seva dharman hee shreshth dharm hai, guruon ne batalaaya,

Comments

comments