Tuesday , 17 January 2017
Latest Happenings
Home » Rudraksh » Rudraksh

Rudraksh

rudraksh

rudraksh

Rudraksha Tears of Lord Shiva

Rudraksha Tears of Lord Shiva

रूद्राक्ष, इसके अलावा, संस्कृत रूद्राक्ष: rudrākṣa (“रुद्र की आँखें”), पारंपरिक रूप से हिंदू धर्म में प्रार्थना मोती के लिए प्रयोग किया जाता है एक बीज है। बीज Elaeocarpus ganitrus जैविक आभूषण या माला के निर्माण में प्रयुक्त प्रिंसिपल प्रजाति होने के साथ जीनस Elaeocarpus में बड़े सदाबहार व्यापक त्यागा पेड़ की कई प्रजातियों द्वारा निर्मित है।

रूद्राक्ष, जैविक जा रहा है, धातु के साथ संपर्क के बिना अधिमान्यतया पहना जाता है; इस प्रकार एक रस्सी या पेटी के बजाय एक श्रृंखला पर।

एकमुखी रुद्राक्ष

ऐसा रुद्राक्ष जिसमें एक ही आँख अथवा बिंदी हो। स्वयं शिव का स्वरूप है जो सभी प्रकार के सुख, मोक्ष और उन्नति प्रदान करता है।

द्विमुखी रुद्राक्ष

सभी प्रकार की कामनाओं को पूरा करने वाला तथा दांपत्य जीवन में सुख, शांति व तेज प्रदान करता है।

त्रिमुखी रुद्राक्ष

समस्त भोग-ऐश्वर्य प्रदान करने वाला होता है।

Fourteen-face-rudraksha.jpg

चतुर्थमुखी रुद्राक्ष

धर्म, अर्थ काम एवं मोक्ष प्रदान करने वाला होता है।

पंचमुखी रुद्राक्ष

सुख प्रदान करने वाला।

षष्ठमुखी रुद्राक्ष

पापों से मुक्ति एवं संतान देने वाला होता होता है।

सप्तमुखी रुद्राक्ष

दरिद्रता को दूर करने वाला होता है।

अष्टमुखी रुद्राक्ष

आयु एवं सकारात्मक ऊर्जा प्रदान करने वाला होता है।

नवममुखी रुद्राक्ष

मृत्यु के डर से मुक्त करने वाला होता है।

दसमुखी रुद्राक्ष

शांति एवं सौंदर्य प्रदान करने वाला होता है।

ग्यारह मुखी रुद्राक्ष

विजय दिलाने वाला, ज्ञान एवं भक्ति प्रदान करने वाला होता है।

बारह मुखी रुद्राक्ष

धन प्राप्ति कराता है।

तरेह मुखी रुद्राक्ष

शुभ व लाभ प्रदान कराने वाला होता है।

चौदह मुखी रुद्राक्ष

संपूर्ण पापों को नष्ट करने वाला होता है।

 

Leave a Reply