Wednesday , 20 September 2017
Latest Happenings
Home » Tag Archives: krishna

Tag Archives: krishna

ब्राह्मण के आंसुओं में बह गया अर्जुन का अभिमान

arjunas-pride-swept-away-in-brahmin-tears

एक दिन श्रीकृष्ण अर्जुन को अपने साथ घुमाने ले गए। रास्ते में उनकी भेंट एक निर्धन ब्राह्मण से हुई। उसका व्यवहार थोड़ा विचित्र था। वह सूखी घास खा रहा था और उसकी कमर से तलवार लटक रही थी। अर्जुन ने उससे पूछा- ‘आप तो अहिंसा के पुजारी हैं। जीव हिंसा के भय से सूखी घास खाकर अपना गुजारा करते हैं। ... Read More »

कृष्ण और सुदामा का प्रेम बहुत गहरा था।

the-love-of-krishna-and-sudama-was-very-deep

कृष्ण और सुदामा का प्रेम बहुत गहरा था। प्रेम भी इतना कि कृष्ण, सुदामा को रात दिन अपने साथ ही रखते थे। कोई भी काम होता, दोनों साथ-साथ ही करते। एक दिन दोनों वनसंचार के लिए गए और रास्ता भटक गए। भूखे-प्यासे एक पेड़ के नीचे पहुंचे। पेड़ पर एक ही फल लगा था। कृष्ण ने घोड़े पर चढ़कर फल ... Read More »

श्रीकृष्ण जी की के सात विशेष विग्रह

seven-special-enunciations-of-sri-krishna-ji

वृंदावन वह स्थान है, जहां भगवान श्रीकृष्ण ने बाललीलाएं की व अनेक राक्षसों का वध किया। यहां श्रीकृष्ण के विश्वप्रसिद्ध मंदिर भी हैं। आज हम आपको 7 ऐसी चमत्कारी श्रीकृष्ण प्रतिमाओं के बारे में बता रहे हैं, जिनका संबंध वृंदावन से है। इन 7 प्रतिमाओं में से 3 आज भी वृंदावन के मंदिरों में स्थापित हैं, वहीं 4 अन्य स्थानों ... Read More »

महाभारत से एक बहुत अच्छी कहानी

a-very-good-story-from-mahabharat

महाभारत की एक बहुत अच्छी कहानी – बहुत प्रासंगिक कर्ण कृष्ण से पूछता है – “मेरी माँ ने मुझे पल जन्म दिया था। क्या यह मेरी गलती है कि मैं एक नाजायज बच्चे का जन्म हुआ? मुझे ध्रुवचर्या से शिक्षा नहीं मिली क्योंकि मुझे गैर क्षत्रिय माना जाता था। परशुराम ने मुझे सिखाया लेकिन तब मुझे क्षत्रिय होने के बाद ... Read More »

कर्ण का दान और अर्जुन के अभिमान में श्रेष्ठ कौन

जब महाराज युधिष्ठिर इंद्रप्रस्थ पर राज्य करते थे। वे काफी दान आदि भी करते थे। धीरे-धीरे उनकी प्रसिद्धि दानवीर के रूप में फैलने लगी और पांडवों को इसका अभिमान होने लगा। एक बार कृष्ण इंद्रप्रस्थ पहुंचे। भीम व अर्जुन ने युधिष्ठिर की प्रशंसा शुरू की कि वे कितने बड़े दानी हैं। तब कृष्ण ने उन्हें बीच में ही टोक दिया ... Read More »

Meera bai Krishna prame

mira bai

मीराबाई कृष्णप्रेम में डूबी, पद गा रही थी , एक संगीतज्ञ को लगा कि वह सही राग में नहीं गा रही है! वह टोकते हुये बोले: “मीरा, तुम राग में नहीं गा रही हो। मीरा ने बहुत सुन्दर उत्तर दिया: “मैं राग में नहीं, अनुराग में गा रही हूँ। राग में गाउंगी तो दुनियां मुझे सुनेगी अनुराग में गाउंगी तो ... Read More »

Radha Krishna

Radha Krishna  are collectively known within Hinduism as the combination of both the feminine as well as the masculine aspects of God. Krishna is often referred as svayam bhagavan in Vaishnavism theology and Radha is five elemental body of the feeling of love towards the almighty God Shree Krishna, soul (aatma) is a part of the God Shree Krishna and ... Read More »

LORD VISHNU

  Vishnu (Sanskrit pronunciation: [vɪʂɳu]; IAST: Viṣṇu) is one of the principal deities of Hinduism, and the Supreme Being in its Vaishnavism tradition. Along with Brahma and Shiva, Vishnu forms a Hindu trinity (Trimurti); however, ancient Hindu texts do mention other trinities of gods or goddesses. In Vaishnavism, Vishnu is identical to the formless metaphysical concept called Brahman, the supreme, the Svayam ... Read More »

Bhakti Tirtha Swami Achievements

Life     Work    Media     Publication Attending lectures at the university and reading books on different subjects, “he began feeling the futility of acquiring knowledge, which would become obsolete very soon”. After Princeton, he joined the Hare Krishna Movement and “began a career of worldwide travel, study, teaching, lecturing, and writing”. On February 16, 1973 in Los Angeles he was initiated into the ... Read More »

Bhakti Charu Swami

Life    Achivments    Work    Media     Publication Bhakti Charu Swami is a Vaishnava swami and a religious leader of the International Society for Krishna Consciousness (ISKCON). He is a Guru and a member of the Governing Body Commission of ISKCON. Previously he was simultaneously acting as ISKCON’s minister of arts and culture. He is an initiated disciple of ISKCON’s founder His Divine Grace, A. C. ... Read More »