Saturday , 11 February 2017
Latest Happenings
Home » Tag Archives: Raam

Tag Archives: Raam

सूरज की गर्मी से जलते हुए

sooraj kee garmee se jalate hue

सूरज की गर्मी से जलते हुए तन को मिल जाये तरुवर की छाया, ऐसा ही सुख मेरे मन को मिला है, मैं जब से शरण तेरी आया, मेरे राम | भटका हुआ मेरा मन था, कोई मिल ना रहा था सहारा | लहरों से लगी हुई नाव को जैसे मिल ना रहा हो किनारा | इस लडखडाती हुई नव को ... Read More »

हे रोम रोम मे बसने वाले राम

he rom rom me basane vaale raam

हे रोम रोम मे बसने वाले राम, जगत के स्वामी, हे अन्तर्यामी, मे तुझ से क्या मांगूं | आप का बंधन तोड़ चुकी हूं, तुझ पर सब कुछ छोड़ चुकी हूं | नाथ मेरे मै क्यूं कुछ सोचूं तू जाने तेरा काम || तेरे चरण की धुल जो पायें, वो कंकर हीरा हो जाएँ | भाग मेरे जो मैंने पाया, ... Read More »

मेरे मन में है राम मेरे तन में है राम

Parbhu Ji Tum Chandan hm pani bhajan

मेरे मन में है राम, मेरे तन में है राम । मेरे नैनो की नगरिया में राम है ॥ मेरे रोम रोम के है राम ही रमिया, साँसों के स्वामी, मेरी नैया के खिवैया। कण कण में हैं राम, त्रिभुवन में हैं राम, नीले नभ की अटरिया में राम है॥ जनम जनम का जिन से है नाता, मन जिन के ... Read More »

मेरे राम आएंगे

bhakton ke pyaare duniya ke sahaare

ओ मैं तो राह बुहारूं, ओ मेरे राम आएंगे। बैठे बाट निहारूं, हाँ मेरे राम आएंगे । हाँ मेरे राम आएंगे, शबीरी  के राम आएंगे । हाँ मेरे राम आएंगे, लक्ष्मण और राम  आएंगे । हाँ मेरे राम आएंगे, सीता और राम आएंगे । राम लखन मेरी कुटिया में आएंगे, जूठे बेरो को प्रभु भोग लगायेंगे । ओ बैठी यही ... Read More »

राम भजन कर मन

Parbhu Ji Tum Chandan hm pani bhajan

राम भजन कर मन, ओ मन रे कर तू राम भजन। सब में राम, राम में है सब, तुलसी के प्रभु, नानक के रब्ब। राम रमईया घट घट वासी, सत्य कबीर बचन॥ राम नाम में पावत पावन, रवि तेज्योमय चन्द्र सुधा धन। राम भजन बिन ज्योति ना जागे, जाए ना जीय की जरन॥ नाम भजन में ज्योति असीमित, मंगल दीपक ... Read More »

ऐसे हैं मेरे राम

Parbhu Ji Tum Chandan hm pani bhajan

ऐसे हैं मेरे राम, ऐसे हैं मेरे राम, विनय भरा ह्रदय करे सदा जिन्हें प्रणाम। ह्रदय कमल, नयन कमल, सुमुख कमल, चरण कमल, कमल के तुम तेज पुंज छवि ललित ललाम, ऐसे हैं मेरे राम, ऐसे हैं मेरे राम॥ राम सा पुत्र ना राम सा भ्राता, राम सा पति नहीं राम सा त्राता। राम सा मित्र ना राम सा दाता, ... Read More »

राम भी आकर यहाँ दुःख सह गये

Nahaye Dhoye ke jo mn ka mael na jaye bhajan

राम भी आकर यहाँ दुःख सह गये तुलसी अपनी रामायण में कह गये राम मर्यादा सिखाने आये थे धर्म के पथ पर चलाने आये थे राम भी आकर यहाँ दुःख सह गये प्रेम हो तोह भारत जैसे भाई का राज चरणों में रहा रघुराई का जुलम केकई के भारत भी सह गये उर्मिला साक्षात् सती की शान  है जिसकी आरती ... Read More »

जब जानकी नाथ सहाय करे

Jab Janki nath Sahyta Kare Story

जब जानकी नाथ सहाय करे, तब कौन बिगाड़ करे नर तेरो सूरज, मंगल, सोम, भृगुसुत बुध और गुरु वरदायक तेरो राहु केतु की नाही गम्यता संग शनिचर हॉट उचरे जब जानकी नाथ सहाय करे, तब कौन बिगाड़ करे नर तेरो   jab jaanakee naath sahaay kare, tab kaun bigaad kare nar tero sooraj, mangal, som, bhrgusut budh aur guru varadaayak ... Read More »

मेरे राम मेरे घर आएंगे आएंगे प्रभु आएंगे

Hum Raam Ji ke Raam Ji Hamare Hai Story

मेरे राम मेरे घर आएंगे, आएंगे प्रभु आएंगे प्रभु के दर्शन की आस है, और भीलनी को विशवास है मेरे राम मेरे घर आएंगे… अंगना रस्ता रोज बुहार रही, खड़ी खड़ी वो राह निहार रही मन में लगन, भीलनी मगन, भीलनी को भारी चाव है और मन में प्रेम का भाव है मेरे राम मेरे घर आएंगे… ना जानू सेवा ... Read More »

रामेश्वरम ज्योतिर्लिंग

Rameshwaram Jyotirling story

रामेश्वरम ज्योतिर्लिंग दक्षिण भारत के समुद्र तट पर स्थित है। कहते हैं मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम ने स्वयं अपने हाथों से श्री रामेश्वरम ज्योतिर्लिंग (Shri Rameshwaram Jyotirling) की स्थापना की थी। रामेश्वरम की कथा (Story of Shri Rameshwaram Jyotirling in Hindi) शिव पुराण के अनुसार जब श्रीराम ने रावण के वध हेतु लंका पर चढ़ाई की थी तो विजयश्री की ... Read More »