Friday , 21 July 2017
Latest Happenings
Home » Tag Archives: shankar

Tag Archives: shankar

मनाएँ शिवरात्रि 101 प्राचीन शिवलिंगों के अभिषेक साथ!

Duba Hua Shiv Mandir

श्री नीलकंतेश्वर जी श्री रामेश्वर जी श्री गोपालेश्वर जी श्री पातालेश्वर जी श्री दशमेश्वर जी श्री घ्रनेश्वर जी श्री जागेश्वर जी श्री मामलेश्वर जी श्री केदारनाथ जी श्री महाकालेश्वर जी श्री राजेश्वर जी श्री मल्लिकार्जुन जी श्री विश्वनाथ जी श्री ब्रहमलेश्वर जी श्री बैजनाथ जी श्री भीमशंकर जी श्री सोमनाथ जी Read More »

शंकर की आधी प्रतिमा पुरुष की है और आधी स्त्री की – अर्धनारीश्वर

शंकर की आधी प्रतिमा पुरुष की है और आधी स्त्री की – अर्धनारीश्वर – यह तो अनूठी घटना है। लेकिन जो जीवन के परम रहस्य में जाना चाहते है, उन्हें शिव के इस रूप को समझना पड़ेगा। अर्धनारीश्वर का अर्थ यह हुआ कि आपका ही आधा व्यक्तित्व आपकी पत्नी और आपका ही आधा व्यक्तित्व आपका पति हो जाता है। आपकी ... Read More »

सारे तीर्थ धाम आपके चरणो में

saare teerth dhaam aapake charanon mein

सद्गुरु जिन का नाम है, मन के भीतर धाम है ऐसे दीनदयाल को मेरा बार बार प्रणाम है कैसे करूँ मैं वंदना, ना स्वर है ना आवाज आज पृख्शा है मेरी, मेरी लाज राखो गुरु आप कबीरा जब हम पैदा हुए, जग हसे हम रोए ऐसी करनी कर चलो, हम हसे जग रोए तीन लोक नव खंड में, गुरु से ... Read More »

गाइये गणपति जगवंदन

gaiye ganapati jagavandan

गाइये गणपति जगवंदन | शंकर सुवन भवानी के नंदन ॥ सिद्धि सदन गजवदन विनायक | कृपा सिंधु सुंदर सब लायक ॥ मोदक प्रिय मुद मंगल दाता | विद्या बारिधि बुद्धि विधाता ॥ मांगत तुलसीदास कर जोरे | बसहिं रामसिय मानस मोरे ॥ wish4me to English gaiye ganapati jagavandan | shankar suvan bhavaanee ke nandan . siddhi sadan gajavadan vinaayak | ... Read More »

गणपति गणेश को मेरा प्रणाम है

mhaara keertan me ras barasao

गणपति गणेश को, उमा पति महेश को मेरा प्रणाम है जी, मेरा प्रणाम है जी अनजानी के पूत को, राम जी के दूत को मेरा प्रणाम है जी, मेरा प्रणाम है जी कृष्ण कन्हैया को, दाऊ जी के भैया को मेरा प्रणाम है जी, मेरा प्रणाम है जी माँ शेरा वाली को, खंडे खप्पर वाली को मेरा प्रणाम है जी, ... Read More »

हम सब गातें हैं तेरी वंदना

ham sab gaate hain teree vandana

तर्ज: जहां डाल डाल पर सोने की चिड़िया। हम सब गातें हैं तेरी वदंना, शिव के लाल गणेशा। मेरे अंग संग रहना हमेशा,  मेरे अंग संग रहना हमेशा। नमामिः गणपत, नमामिः गजानन, नमामि देवो लम्बोदरा। नमामि: रिद्धी सिद्धी वर दाता, नमामिः गौरी सुत नंदना। हम सब गातें हैं तेरी वदंना, शिव के लाल गणेशा। मेरे अंग संग रहना हमेशा,  मेरे ... Read More »

बाबा बैजनाथ धाम की कथा

story of baba baijnaath dhaam

भगवान शिव के भक्त रावण और बाबा बैजनाथ की कहानी बड़ी निराली है. पौराणिक कथा के अनुसार दशानन रावण भगवान शंकर को प्रसन्न करने के लिए हिमालय पर तप कर रहा था. वह एक-एक करके अपने सिर काटकर शिवलिंग पर चढ़ा रहा था. 9 सिर चढ़ाने के बाद जब रावण 10वां सिर काटने वाला था तो भोलेनाथ ने प्रसन्न होकर ... Read More »

अमरनाथ धाम की कथा (story of Amarnath shrine)

amaranaath dhaam kee katha

माता पार्वती शिव के समान ही आदि शक्ति हैं. सृष्टि के आरम्भ से लेकर अंत तक की सभी कथाएं इन्हें ज्ञात है. एक समय की बात है देवी पार्वती के मन में अमर होने की कथा जानने की जिज्ञासा हुई. पार्वती ने भगवान शंकर से अमर होने की कथा सुनाने के लिए कहा. भगवान शंकर पार्वती की बात सुनकर चौंक ... Read More »

श्री शिवा चालीसा

daada tera kya farz nahee bhakto ke ghar aane ka

सावन मास में शिव चालीसा पढ़ने का अलग ही महत्व है। शिव चालीसा के माध्यम से आप अपने सारे दुखों को भूला कर भगवान शिव की अपार कृपा प्राप्त कर सकते हैं। || चौपाई || अज अनादि अविगत अलख, अकल अतुल अविकार। बंदौं शिव-पद-युग-कमल अमल अतीव उदार॥ आर्तिहरण सुखकरण शुभ भक्ति -मुक्ति -दातार। करौ अनुग्रह दीन लखि अपनो विरद विचार॥ ... Read More »

बजरंगबली तेरा हम दर्श अगर पाएं

saalaasar ke mandir mein hanumaan viraaje re

बजरंगबली तेरा हम दर्श अगर पाएं । हे राम भक्त तेरे चरणों में लिपट जाए ॥ अनजनी के लाल जग में तेरी महिमा में भारी है । हे पवन पुत्र तुम तो शंकर अवतारी है । बिन देखे तेरी सूरत अब चैन नहीं आए ॥ सूरज ने निगल कर के, बजरंगी कहलाए । लंका को जला कर के सीता की ... Read More »