Thursday , 9 February 2017
Latest Happenings
Home » Gyan Ganga » Bhajan/Aarti / Mantra/ Chalisa Lyrics » ऐसे हैं मेरे राम

ऐसे हैं मेरे राम

aise-hai-mere-ram

aise-hai-mere-ram

Aise Hai Mere Ram Story
ऐसे हैं मेरे राम, ऐसे हैं मेरे राम,
विनय भरा ह्रदय करे सदा जिन्हें प्रणाम।

ह्रदय कमल, नयन कमल,
सुमुख कमल, चरण कमल,
कमल के तुम तेज पुंज छवि ललित ललाम,
ऐसे हैं मेरे राम, ऐसे हैं मेरे राम॥

राम सा पुत्र ना राम सा भ्राता,
राम सा पति नहीं राम सा त्राता।
राम सा मित्र ना राम सा दाता,
सब से निभाएं सब सा नाता।
स्वभाव से उदार शांत,
सब गुणों के धाम,
ऐसे हैं मेरे राम, ऐसे हैं मेरे राम॥

सारे जग के प्राण हैं राम,
ऋषि मुनिओं का ध्यान है राम,
गन्धर्वों का गान है राम,
मर्यादा का भान है राम,
पतितों का उद्धार है राम,
धनुधारी धनवान हैं राम,
निश्चित ही विद्वान है राम,
सब पूरण भगवान् है राम,
जनम मरण से मुक्ति हो, जपो जो राम नाम।
ऐसे हैं मेरे राम, ऐसे हैं मेरे राम॥


aise hain mere raam, aise hain mere raam,
vinay bhara hraday kare sada jinhen pranaam.

hraday kamal, nayan kamal,
sumukh kamal, charan kamal,
kamal ke tum tej punj chhavi lalit lalaam,
aise hain mere raam, aise hain mere raam.

raam sa putr na raam sa bhraata,
raam sa pati nahin raam sa traata.
raam sa mitr na raam sa daata,
sab se nibhaen sab sa naata.
svabhaav se udaar shaant,
sab gunon ke dhaam,
aise hain mere raam, aise hain mere raam.

saare jag ke praan hain raam,
rshi munion ka dhyaan hai raam,
gandharvon ka gaan hai raam,
maryaada ka bhaan hai raam,
patiton ka uddhaar hai raam,
dhanudhaaree dhanavaan hain raam,
nishchit hee vidvaan hai raam,
sab pooran bhagavaan hai raam,
janam maran se mukti ho, japo jo raam naam.
aise hain mere raam, aise hain mere raam.

Comments

comments