Thursday , 9 February 2017
Latest Happenings
Home » Gyan Ganga » Story Katha » अद्भुत है अमरनाथ शिवलिंग (Amazing is the Amarnath Lingam)

अद्भुत है अमरनाथ शिवलिंग (Amazing is the Amarnath Lingam)

amazing-is-the-amarnath-lingam

amazing-is-the-amarnath-lingam

Amazing is the Amarnath Lingam

Amazing is the Amarnath Lingam

अमरनाथ शिवलिंग हिम से निर्मित होता. यह शिवलिंग अन्य शिवलिंगों की भांति सालों भर नहीं रहता है. वर्ष के कुछ महीनों में यहां हिम से स्वयं शिवलिंग का निर्माण होता है. स्वयं हिम से निर्मित शिवलिंग होने के कारण इसे स्वयंभू हिमानी शिवलिंग भी कहा जाता है. आषाढ़ पूर्णिमा से शिवलिंग का निर्माण होने लगता है जो श्रावण पूर्णिमा के दिन पूर्ण आकार में आ जाता है.

अमरनाथ की गुफा में हिम जल टपकता रहता है. आस-पास जमा हुआ बर्फ भी कच्चा होता है जबकि हिम से बना शिवलिंग ठोस होता है. इस स्थान पर आकर ईश्वर के प्रति आस्था मजबूत हो जाती है. इस तरह शिवलिंग का निर्माण सदियों से होता चला आ रहा है. यह भगवान के भक्तों को यह विश्ववास दिलाता है कि उनकी श्रद्धा सच्ची है. ईश्वर है तभी यह संसार है.

wish4me to English

amaranaath shivaling him se nirmit hota. yah shivaling any shivalingon kee bhaanti saalon bhar nahin rahata hai. varsh ke kuchh maheenon mein yahaan him se svayan shivaling ka nirmaan hota hai. svayan him se nirmit shivaling hone ke kaaran ise svayambhoo himaanee shivaling bhee kaha jaata hai. aashaadh poornima se shivaling ka nirmaan hone lagata hai jo shraavan poornima ke din poorn aakaar mein aa jaata hai.

amaranaath kee gupha mein him jal tapakata rahata hai. aas-paas jama hua barph bhee kachcha hota hai jabaki him se bana shivaling thos hota hai. is sthaan par aakar eeshvar ke prati aastha majaboot ho jaatee hai. is tarah shivaling ka nirmaan sadiyon se hota chala aa raha hai. yah bhagavaan ke bhakton ko yah vishvavaas dilaata hai ki unakee shraddha sachchee hai. eeshvar hai tabhee yah sansaar hai.

Comments

comments